Tuesday, 19 May 2020

EMI Kya Hai | EMI Kaise Kam Karti Hai?

अगर आपने बैंक या क्रेडिट कार्ड के जरिये कोई होम लोन, पर्सनल लोन, बिज़नेस लोन, एजुकेशन लोन या कोई भी लोन लिया है, या फिर आप कोई लोन लेने की सोच रहे हैं। तो आपको EMI की कैलकुलेशन की पूरी जानकारी होना बहुत ही ज़रूरी होता है। जब आप बैंक से कोई लोन लेते हैं तब बैंक EMI के जरिये ही अपने रुपये वापस लेता है। और अब तो ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स जैसे Amazon, Flipkart पर भी EMI पर समान खरीद सकते हैं। ये साइट्स भी आपको EMI के जरिये भुगतान करने का विकल्प देती है।


ऐसे में प्रश्न ये उठता है कि EMI क्या होती है, और कैसे काम करती है? तो नमस्कार दोस्तों, मैं हूँ अरिजीत सिंह और आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे की EMI क्या होती है, कैसे काम करती है साथ ही सीखेंगे की EMI कैलकुलेशन कैसे की जाती है? तो चलिए शुरू करते हैं।

EMI क्या है?

EMI का पूरा नाम Equated Monthly Installment होता है, इसे हिंदी में मासिक किश्त कहा जाता है। यानी किसी लोन को चुकाने या किसी समान को खरीदने पर हम जो भी मासिक किश्तों का भुगतान करते हैं, उसे EMI कहते है।

लोन के पूरे अमाउंट को मूलधन (Principal Amount) कहा जाता है और उस पर दिए जाने वाले एक्स्ट्रा अमाउंट को ब्याज (Interest) कहा जाता है।

आज लगभग हर व्यक्ति को लोन की जरूरत पड़ जाती है, लोन में आपको पूरे पैसे मिल जाते हैं। लेकिन जब आपको लोन चुकाना होता है तो आपको एक साथ पूरे पैसे नहीं चुकाने होते हैं। इसलिए इसे आसान बनाने के लिए बैंक आपको EMI का विकल्प देते हैं। जिसके जरिये आप हर महीने भुगतान करके अपने लोन को आसानी से चुका सकते हैं।

जब आप EMI यानी मासिक किश्तों को चुकाते हैं तो इसमें आपके मूल के अलावा ब्याज भी शामिल होता है। यानी जो आपकी मासिक किश्तें होती है उसमें ब्याज के रुपये भी जोड़ दिए जाते हैं।

EMI कैसे काम करती है?

आपने जो भी लोन लिया है, उस लोन को टाइम पीरियड के हिसाब से बांट दिया जाता है। इसके साथ ही लोन की जो राशि होती है उसमें लगने वाले ब्याज को भी टाइम पीरियड के हिसाब से बांट कर उसे मासिक किश्तों में जोड़ दिया जाता है। इस तरह EMI काम करती है।

उदारहण के लिये :- आपने किसी बैंक से 12 महीनों के लिए 1 लाख रुपये का लोन लिया है और उसमें बैंक 10% का ब्याज ले रहा है। तो आपको 1 महीने की किश्त 8,792₹ लगेगी। इस किश्त में 8,333₹ मूल राशि होगी और इसमें 458₹ ब्याज जोड़ा गया है।

EMI Calculation कैसे करें?

  • सबसे पहले अपना Internet Browser ओपन करें।
  • https://emicalculator.net पर जाईये और नीचे की ओर स्क्रोल कीजिये।
  • EMI के प्रकार में से Home, Personal या Car Loan को चुनिए।
  • Loan के अमाउंट को टाइप कीजिये।
  • उसके बाद Interest Rate टाइप कीजिये।
  • Loan की अवधि चुनिए।
  • बस इतना करते ही आपको अपने EMI की Calculation मिल जाएगी।

EMI कैसे Pay करें?

EMI का भुगतान करने के दो तरीके होते हैं:

1.Online: EMI भुगतान के ऑनलाइन तरीके में, आपको लोन लेते समय ही साइन किये हुए चेक, डेबिट या क्रेडिट कार्ड की जानकारी देनी होती है। हर महीने आपके एकाउंट से ऑटोमैटिक EMI अमाउंट कटता रहता है।

2.Offline: यदि आप लोन का भुगतान ऑफलाइन करना चाहते हैं तो आपको बैंक में जाकर नक़द भुगतान करना होता है।

तो आज के इस आर्टिकल में हमने जाना कि EMI क्या है, कैसे काम करती है, कैसे इसे कैलकुलेट किया जाता है और इसका भुगतान कैसे कर सकते हैं।

"उम्मीद है आपको यह आर्टिकल पसन्द आया होगा, आपके कमैंट्स का हमें इंतेजार रहेगा और सुझावों का हमेशा स्वागत है।"
Previous Post
Next Post

post written by:

दोस्तों स्वागत है आपका gyanesh.in के इस आर्टिकल में। मेरा नाम अरिजीत सिंह है। मैं इस ब्लॉग का Author हूँ। जो आर्टिकल आप अभी पढ़ रहे हैं वो मेरे द्वारा ही लिखा गया है। मुझे शिक्षा से संबंधित जानकारी साझा करना बहुत पसंद है।

0 Comments: