Skip to main content

Posts

Showing posts from January, 2021

समास की परिभाषा, भेद, उदाहरण

समास आज इस पोस्ट में आप पढ़ने वाले हैं समास के बारे में। समास को अंग्रेज़ी मेंं Compound (कंपाउंड)भी कहते हैं। यह हिंदी भाषा का सबसे महत्वपूर्ण विषय है जो सभी विद्यार्थियों के लिए आवश्यक है। समास क्या है? दो या दो से अधिक शब्दों से मिलकर बने हुए नये और सार्थक शब्द को समास कहते हैं। समास के प्रकार: अव्ययीभाव समास तत्पुरुष समास कर्मधारय समास द्विगु समास द्वंद्व समास बहुव्रीहि समास अव्ययीभाव समास जिस समास का पहला पद अव्यय तथा प्रधान हो, उसे अव्ययीभाव समास कहते हैं। Tip: पहला पद छोटा - प्रधान उदाहरण: - प्रतिदिन = प्रति + दिन सहर्ष = स + हर्ष यथासंभव = यथा + संभव प्रतिकूल = प्रति + कूल Note: एक ही शब्द कईं बार आने पर भी अव्ययीभाव समास होता है। जैसे: - हाथों - हाथ = हाथ + हाथ दिनों - दिन = दिन + दिन तत्पुरुष समास जिस समास में दूसरा पद प्रधान होता है तथा दोनों पदों के बीच का कारक चिन्ह लुप्त हो जाता है उसे तत्पुरुष समास कहते हैं। Tip: इसका दूसरा पद छोटा होता है - प्रधान उदाहरण: - राजकुमार = राज का कुमार राजपुत्र = राजा का पुत्र यशप्राप्त = यश को प्राप्त करुणापूर्ण = करुणा से पूर्ण यज्ञशाला = यज

ज्ञान स्टेटस - Gyan Status In Hindi

Explore Gyan Status In Hindi For Free लोग अक्सर तरह - तरह के स्टेटस को अपने सोशल मीडिया पर साझा करते रहते हैं। लेकिन हर बार वही पुराने स्टेटस को पढ़ते हुए लोग बोर हो चुके हैं। क्या आप नहीं चाहते, जो स्टेटस आप शेयर करें उन्हें लोगो द्वारा न सिर्फ पसंद किया जाए बल्कि वे आपके स्टेटस से काफी प्रभावित हो जाये। यदि हाँ, तो आगे दिए गए ज्ञान के स्टेटस आपको बहुत पसंद आने वाले हैं। ज्ञान स्टेटस हिंदी - Gyan Status In Hindi 1. लोग सोचते ही रह गए और ज़िन्दगी हाथ से निकल गई, कम सोचिये ज़्यादा करिये। 2. सोचना है तो बड़ा सोचिये, करना है तो बड़ा कीजिये, एक बार पूरी ताकत तो लगाइये, रो-रोकर जीना भी कोई जीना है। 3. सफलता तब मिलती है जब आपके सपने आपके बहनों से बड़े हो जाये। 4. दूसरों को कोई भी ज्ञान देने से पहले सोचिये, क्या मैं भी उन पर अमल करता हूँ। 5. सर में बर्फ, सीने में आग, पैर में चक्कर, मुंह में शक्कर, मोटी चमड़ी और एक संवेदनशील दिल। 6. यदि दूसरों से सम्मान पाना है तो पहले अपना सम्मान करो। 7. आसपास मूर्ख है तो कम बोलिये क्योंकि वो नहीं सुनेंगे, आसपास समझदार है तो कम बोलिये क्योंकि ज़्यादा सुनने में भलाई ह