MASIGNASUKAv102
6510051498749449419

5 Short Points About Mango In Hindi

5 Short Points About Mango In Hindi
Add Comments
Monday, 9 December 2019
    नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे नए आर्टिकल "5 Short Points About Mango In Hindi" में। आज के इस आर्टिकल में मैं आपको बताने वाला हूँ आम से जुड़े 5 तथ्यों के बारे में वो भी हिंदी में। चलिए शुरू करते हैं।


    1.आम भारत का राष्ट्रीय फल है

    आम भारत का राष्ट्रीय फल होने के साथ ही फलों का राजा भी कहलाता है। इसने बच्चों से लेकर बड़ों तक अपनी मधुर सुगंध और अनूठे स्वाद से दुनियाभर के लोगों का दिल जीत लिया है। ये फल दुनिया के उष्णकटिबंधीय फलों में से एक है। यह फल भारत में प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। भारत मे पहाड़ी क्षेत्रों को छोड़कर सभी क्षेत्रों में आम की खेती की जाती है।

    2.आम सफेदा, दशहरी, लंगड़ा आदि प्रजाति के होते हैं

    हमारे भारत मे कई तरह के आम की खेती की जाती है। फलों के राजा आम की विभिन्न प्रजातियां है जैसे- अलफान्सो, बादामी, दशहरी, लंगरा, चौसा आदि। लोग अपने पसंद के अनुसार इन्हें खाना पसंद करते हैं।

    3.आम में विटामिन A, C और D पाया जाता है

    आम’ भारत की राष्ट्रीय फल है। आम में विटामिन A, C और D पाया जाता है। आम के गुण अनगिनत हैं जिसके कारण हम आम को ‘फलों का राजा’ भी कहते हैं। आम एक गूदेदार फल है जो की गर्मी के मौसम में पाया जाता है। आम कई रंगों में पाया जाता है। ये हरे और पीले रंग में ज्यादातर पाये जाते हैं। आम फल प्राचीन समय से लोकप्रिय है। इसे हम काट कर या चूस कर भी खा सकते हैं। आम खट्टे और मीठे स्वाद के पाये जाते हैं। बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सभी आम को अपना प्रिय फल मानते हैं।


    4.आम के पत्तों का घर के द्वार और पूजा कलश को सजाने का काम आता है

    पूजा-पाठ अनुष्ठान आदि में जब कलश की स्थापना की जाती है। तब जल से भरे कलश के ऊपर भी आम की पत्तियां रखी जाती हैं। कोई मांगलिक कार्य होता है तो आम की पत्तियों को पतले धागों में लटकाकर घर के प्रवेश द्वार पर बांधk जाती है। इसके अलावा मंडप सजाने के लिए भी आम की पत्तियों का उपयोग किया जाता है।

    5.पूरे विश्व में आम का 60 प्रतिशत उत्पादन भारत में किया जाता है

    विश्व में आम के उत्पादक देशों में से भारत सबसे आगे है। भारत में उत्पादित आम पुरे विश्व के बाज़ार में भेजा जाता है। आज भी हमारे देश के कई राज्यों के किसान आम को अपने रोज़गार के मुख्य पात्र मानते हैं। भारत देश विश्व के आम बाज़ार में करीब 60 प्रतिशत का अकेले उत्पादकारी है।
    Arijit Singh

    दोस्तों स्वागत है आपका gyanesh.in के इस आर्टिकल में। मेरा नाम अरिजीत सिंह है। मैं इस ब्लॉग का Author हूँ। जो आर्टिकल आप अभी पढ़ रहे हैं वो मेरे द्वारा ही लिखा गया है। मुझे शिक्षा से संबंधित जानकारी साझा करना बहुत पसंद है।